Aatma darshan kaise kare

आत्मा दर्शन किसे कहते और कैसे करें? Aatma darshan kaise

जय गुरुदेव भाइयों, Aatma darshan, आत्मा दर्शन किसे कहते हैं और आत्मा दर्शन कैसे पा सकते हैं? वास्तव में गुरु का काम आत्मा दर्शन और परमात्मा दर्शन कराना, जीवात्मा को बाहरी एवं अंदरुनी अलौकिक शक्तियों को उजागर करना, गुरु की कृपा से दिव्य दृष्टि को खुलवाना, वास्तव में यदि हम हर रोज़ नाम धन की …

आत्मा दर्शन किसे कहते और कैसे करें? Aatma darshan kaise Read More »

ध्यान करते समय साधक को हिदायत | Dhyan karte samy

सत्संग प्रेमी भाइयों बहनों आज हम सत्संग अक्षरों के माध्यम से पूर्व में स्वामी जी महाराज द्वारा दिए गए सत्संग उनकी महत्त्वपूर्ण अंशों को आपके साथ साझा करने जा रहे हैं। जिसमें ध्यान (Dhyan) करते समय साधक को क्या हिदायत दी जाती है? किन बातों का ध्यान रखना होता है और साधक को किस तरह …

ध्यान करते समय साधक को हिदायत | Dhyan karte samy Read More »

जीवात्मा (सुरत) सुख कैसे पाए? सुरत का आस्तत्व

जय गुरुदेव, सत्संग प्रेमियों, मेरे अच्छे महानुभाव, इस लेख के माध्यम से हम सुरत का आस्तत्व और आत्मा सुख और उसकी प्राप्ति जैसे सत्संग लेख को आपके साथ साझा करने जा रहे हैं। जिसमें परम पूज्य स्वामी जय गुरुदेव जी महाराज ने अपनी आध्यात्मिक सत्संग में इन महत्त्वपूर्ण बातों की चर्चा अपने प्रेमियों के साथ …

जीवात्मा (सुरत) सुख कैसे पाए? सुरत का आस्तत्व Read More »

गुरु का पथ अपनाना क्या सरल है या नहीं? Guru Marg, जय गुरुदेव

जय गुरुदेव दोस्तों आज हम इन सत्संग लाइनों के माध्यम से परम संत स्वामी जी महाराज जय गुरुदेव जी के द्वारा दिए गए आध्यात्मिक सत्संग के उन महत्त्वपूर्ण वचनों को आपके साथ साझा करने जा रहे हैं। जो गुरु का पथ य गुरु दीक्षा जैसी चीजों को अपनाना क्या सरल है? क्या वास्तव में Guru …

गुरु का पथ अपनाना क्या सरल है या नहीं? Guru Marg, जय गुरुदेव Read More »

साधना करते वक़्त दया के निशान | रूहानी सफ़र में

जय गुरुदेव, सत्संग प्रेमियों आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपके लिए परम पूज्य जयगुरुदेव जी महाराज द्वारा दिए गए सत्संग के महत्त्वपूर्ण अंशों, जिसमें एक साधक जब साधना करता है तो वह अपने आध्यात्मिक रूहानी मंडलों में सफ़र करता है। उसे माया का कैसे प्रभाव महसूस होता है? आदि बातों को इस …

साधना करते वक़्त दया के निशान | रूहानी सफ़र में Read More »

कर्म और अकर्म क्या साधक का कर्म क्या होना चाहिए?

कर्म अकर्म क्या है? एक साधक को क्या कर्म करना चाहिए? ताकि साधक की साधना पॉजिटिव रहे और गुरु भक्ति का आशीर्वाद मिले। साधक को साधना करते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? कौन से कार्य करना चाहिए और कौन से कार्य नहीं करना चाहिए. आदि सत्संग की अनमोल बातों को हम आपके साथ …

कर्म और अकर्म क्या साधक का कर्म क्या होना चाहिए? Read More »

गुरु ज्ञान की महिमा बड़ी निराली । Guru Mahima In Hindi

गुरु की महिमा अपरंपार है। गुरु की महिमा का कोई भी पूर्ण रूप से लेखन नहीं कर सकता है। गुरु की शिष्य पर बहुत ही महान कृपा होती है। आफत विपत्ति परेशानियों जैसी स्थिति से निकालकर के सकारात्मक रास्ते पर खड़ा कर देता है। जय गुरुदेव आप इस आर्टिकल में गुरु की महिमा के बारे …

गुरु ज्ञान की महिमा बड़ी निराली । Guru Mahima In Hindi Read More »

साधक के क्या-क्या कर्तब्य होना चाहिये?

जय गुरुदेव सत्संगी के क्या-क्या कर्तव्य होना चाहिए? एक साधक को किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? ताकि उसकी साधना सक्रिय रहे और गुरु की कृपा हमेशा बरसती रहे । इन नीचे दिए गए लाइनों में परम संत बाबा जयगुरुदेव जी द्वारा सुनाए गए, आध्यात्मिक सत्संग के सार परमार्थी वचन संग्रह नामक पुस्तक से महत्त्वपूर्ण …

साधक के क्या-क्या कर्तब्य होना चाहिये? Read More »

आत्मा सुख क्या और साधक को सुख अनुभूति कैसे प्राप्त होती है?

आत्मा सुख किसे कहते हैं? आत्मा (Aatma) सुख की अनुभूति कैसे प्राप्त करें? कैसे हमारे अंदर शांति सुकून और आत्मा को सुख प्राप्त हो, यह अनुभूति हम कैसे कर सकते हैं? आदि तमाम प्रकार की जानकारी बाबा जयगुरुदेव जी के द्वारा पूर्ण सारांश दिया गया है।आप इन सत्संग लाइनों को पूरा पढ़ें, आपको आत्मा सुख …

आत्मा सुख क्या और साधक को सुख अनुभूति कैसे प्राप्त होती है? Read More »

साधक के प्रति गुरु के वचन कैसे और क्या?

महानुभाव जय गुरुदेव, साधक के प्रति गुरु के वचन, गुरु और शिष्य का क्या रिश्ता है? गुरु और शिष्य का सम्बंध, क्या मानव जीवन में गुरु का महत्त्व है। गुरु शिष्य का सम्बंध कैसा होना चाहिए? क्या गुरु बनाना ज़रूरी है। आदि ऐसी बातें हैं जिन्हें परम संत बाबा जयगुरुदेव जी महाराज ने अपनी सत्संग …

साधक के प्रति गुरु के वचन कैसे और क्या? Read More »

Scroll to Top